श्री रत्नकरण्डक श्रावकाचार
अधिकार: 2 से 4
(श्लोक: 42 से 90)

आचार्य श्री समन्तभद्र स्वामी द्वारा रचित
श्री रत्नकरण्डक श्रावकाचार पर


परम पूज्य मुनि श्री प्रणम्य सागर जी महाराज के मंगल प्रवचन

अधिकार – 04
(गुणव्रत अधिकार)

(श्लोक: 67 से 90)

.

प्रवचन – 23
(भोगोपभोग सामग्री, भोगोपभोग व्रत के अतिचार)
(20
-July-2021)
(श्लोक: 88-90)

.

प्रवचन – 22
(व्रत का स्वरुप, यम और नियम)
(19
-July-2021)
(श्लोक: 85-87)

.

प्रवचन – 21
(भोगोपभोग परिमाण गुणव्रत, सर्वथा त्याज्य पदार्थ)
(15
-July-2021)
(श्लोक: 82-84)

.

प्रवचन – 20
(प्रमादचर्या अनर्थदण्ड, अनर्थदण्ड के अतिचार)
(14
-July-2021)
(श्लोक: 80-81)

.

प्रवचन – 19
(अपध्यान अनर्थदण्ड, दू:श्रुति अनर्थदण्ड)
(13
-July-2021)
(श्लोक: 78-79)

.

प्रवचन – 18
(पापोपदेश के लक्षण, हिंसादान अनर्थदण्ड)
(12
-July-2021)
(श्लोक: 76-77)

.

प्रवचन – 17
( दिग्व्रत के अतिचार, अनर्थदण्ड व्रत)
(09
-July-2021)
(श्लोक: 73-75)

.

प्रवचन – 16
( महाव्रत का लक्षण)
(07
-July-2021)
(श्लोक: 71-72)

.

प्रवचन – 15
( दिग्व्रत का लक्षण, मर्यादा की विधि)
(03
-July-2021)
(श्लोक: 68-70)

.

अधिकार – 03
(अणुव्रत अधिकार)

(श्लोक: 47 से 66)

प्रवचन – 14
(श्रावक के आठ मूलगुण, गुणव्रतों के नाम)
(0
2-July-2021)
(श्लोक: 66-67)

.

प्रवचन – 13
(पंचाणुव्रत का फल)
(0
1-July-2021)
(श्लोक: 63-65)

.

प्रवचन – 12
(अपरिग्रह अणुव्रत एवं उसके अतिचार)
(30
-June-2021)
(श्लोक: 61-62)

.

प्रवचन – 11
(ब्रह्मचर्य अणुव्रत एवं उसके अतिचार)
(29
-June-2021)
(श्लोक: 59-60)

.

प्रवचन – 10
(अचौर्याणुव्रत, अचौर्याणुव्रत के अतिचार)
(28
-June-2021)
(श्लोक: 57-58)

.

प्रवचन – 09
(सत्य अणुव्रत, सत्य अणुव्रत के अतिचार)
(27
-June-2021)
(श्लोक: 55-56)

.

प्रवचन – 08
(अणुव्रत का लक्षण, अहिंसा अणुव्रत एवं अतिचार)
(26
-June-2021)
(श्लोक: 52-54)

.

प्रवचन – 07
(चारित्र के भेद, विकल चारित्र के भेद)
(25
-June-2021)
(श्लोक: 50-51)

.

प्रवचन – 06
(चारित्र, चारित्र का लक्षण)
(24
-June-2021)
(श्लोक: 48-49)

.

प्रवचन – 05
(चारित्र की आवश्यकता)
(23
-June-2021)
(श्लोक: 47)

.

अधिकार – 02 (सम्यग्ज्ञान)
(श्लोक: 42 से 46)

.

प्रवचन – 04
(द्रव्यानुयोग)
(22
-June-2021)
(श्लोक: 46)

.

प्रवचन – 03
(चरणानुयोग)
(21
-June-2021)
(श्लोक: 45)

.

प्रवचन – 02
(करणानुयोग)
(20
-June-2021)
(श्लोक: 44)

.

.

प्रवचन – 01
(सम्यग्ज्ञान का लक्षण, प्रथमानुयोग)
(17
-June-2021)
(श्लोक: 42-43)

Posted in Uncategorized.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.