Lock Down

Lockdown के समय आध्यात्मिक यात्रा प्रवचन series में परम पूज्य मुनि श्री प्रणम्य सागर जी महाराज ने प्रवचन के साथ meditation और ध्यान भी कराया। दूसरे शब्दों में theory के साथ practical भी सिखाया। जिन लोगों ने भी आध्यात्मिक यात्रा के वीडियो देखें, उन्होंने अपने को बहुत भाग्यशाली माना, उन्हें ऐसा महसूस हुआ जैसे तूफान से भरे समुद्र में उन्हें कोई जहाज मिल गया हो और वे उस पर सुरक्षित आकर बैठ गए हों या तपती गर्मी में किसी वृक्ष की ठंडी छाया जैसा आराम उन्हें मिल गया हो। इस आध्यात्मिक यात्रा को मानव समुदाय ने ज्ञान, ध्यान और अध्यात्म का ऐसा संयोग माना जो कि बहुत पुण्य से मिलता है। इसी आध्यात्मिक यात्रा के प्रवचन और meditation के videos आप यहां देख सकते हैं:

जब कभी देश पर या मानव समुदाय पर कोई संकट आता है तो दुख, भय और चिंता में डूबे हुए मानव समुदाय को इस संकट से निकालने के लिए हमारे मुनि जन, गुरुजन, संत आगे आते हैं। उनको सही रास्ता दिखाते हैं। उनका मार्गदर्शन करते हैं।

ऐसा ही संकट पूरी दुनिया पर दिखाई दिया जब कारोना वायरस के प्रकोप ने दुनिया के सभी देशों को असहाय सा बना दिया। हमारे देश भारत में भी इस महामारी ने जब पैर फैलाए और पूरे देश में Lockdown हो गया तो अपने घरों में बंद लोग depression, चिंता और भय के शिकार होने लगे।

ऐसे समय में अर्हं योग द्वारा मानवता का परोपकार करने वाले परम पूज्य मुनि श्री प्रणम्य सागर जी महाराज ने मानव समुदाय की पीड़ा और कष्ट को समझा और उनका सही मार्गदर्शन करने के लिए “21 दिन की आध्यात्मिक यात्रा” के नाम से एक प्रोग्राम शुरू किया। इस आध्यात्मिक यात्रा के प्रोग्राम ने मानव समुदाय को भय, चिंता, निराशा और depression की राह पर जाने से रोका और उन्हें एक नए उत्साह, उमंग और positiveness से भरे रास्ते पर चलना सिखाया।

इस आध्यात्मिक यात्रा में पूज्य मुनि श्री ने न केवल प्रवचन दिए बल्कि उसके साथ meditation और ध्यान भी कराया। दूसरे शब्दों में theory के साथ practical भी कराया। प्रत्येक दिन नया मार्गदर्शन और नया रास्ता मुनि श्री ने दिखाया। अपने लिए, अपने परिवार और अपने देश के लिए इस स्थिति में हम क्या positive कर सकते हैं ? अपने को कैसे जानें ? मोह माया के जाल से कैसे बचें ? अपने को प्रसन्न कैसे बनायें ? दुःख से कैसे बचें ? क्या चिंतन करें ? Lockdown के इस समय को अपने लिए golden opportunity कैसे बनाएं आदि सवालों के जवाब इस आध्यात्मिक यात्रा के प्रवचनों में मिले। जिन लोगों ने भी आध्यात्मिक यात्रा के वीडियो देखें, उन्होंने अपने को बहुत भाग्यशाली माना। उन्हें ऐसा महसूस हुआ जैसे तूफान से भरे समुद्र में उन्हें कोई जहाज मिल गया हो और वे उस पर सुरक्षित आकर बैठ गए हों या तपती गर्मी में किसी वृक्ष की ठंडी छाया जैसा आराम उन्हें मिल गया हो। Lockdown के पीरियड में चली आध्यात्मिक यात्रा को मानव समुदाय ने ज्ञान ध्यान और अध्यात्म का ऐसा संयोग माना जो कि बहुत पुण्य से मिलता है। इसी आध्यात्मिक यात्रा के प्रवचन और meditation के videos आप यहां देख सकते हैं:

Posted in Pravachan.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.